सोनभद्र-दो तक ज्वालामुखी मंदिर के कपाट रहेंगे बंद

शक्तिनगर (सोनभद्र) : कोरोना महामारी के कारण ज्वालामुखी मंदिर का कपाट 23 मार्च से दो अप्रैल तक दर्शनार्थियों के लिए बंद रहेगा। मंदिर परिसर में चैत्र नवरात्रि पर लगने वाला पाक्षिक पारंपरिक मेला भी नहीं लगेगा। ज्वालामुखी मंदिर के पुजारी श्लोकी मिश्रा ने बताया कि सोमवार को उप जिलाधिकारी दुद्धी सुशील यादव, सीओ पिपरी विजय शंकर मिश्रा द्वारा पिपरी में ग्राम प्रधान चिल्काडांड़ रवींद्र यादव, परसवार राजा प्रधान प्रतिनिधि बृजबिहारी यादव, कोटा प्रधान प्रतिनिधि प्रमोद तिवारी, एनटीपीसी शक्तिनगर के पीआरओ आदेश पांडेय, शक्तिनगर थान प्रभारी अंजनी राय के साथ बैठक हुई। इसमें चैत्र नवरात्रि पर मंदिर में भीड़ इकट्ठा होने से रोकने के लिए कपाट बंद रखने का निर्णय लिया गया। नवरात्रि में लोग अपने घरों में कलश स्थापित कर पूजा, अनुष्ठान करने का सुझाव दिया गया। नवरात्रि पर मंदिर परिसर में लगने वाला पारंपरिक पाक्षिक मेला भी स्थगित करने का निर्णय लिया गया। अधिकारियों ने कहा कि सतर्कता से ही कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। जान है तभी जहान है। शक्तिनगर थाना प्रभारी ने कहा कि थाने में मस्जिद के पदाधिकारियों की बैठक आयोजित कर उनसे भी महामारी को देखते हुए मस्जिद का कपाट बंद कर घर में नमाज पढ़ने की अपील की गई है। पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू है। एक स्थान पर पांच या उससे अधिक लोग इकट्ठा नहीं होंगे। उल्लंघन किए जाने वाले पर कार्रवाई की जायेगी