कोरोना के चलते छत्तीसगढ़ में फंसे 50 लोग झारखंड भेजे गए

लॉकडाउन की स्थिति में दूसरे राज्यों में फंसे झारखंडवासियों की मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सुध ली है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पहल करते हुए दूसरे राज्यों में फंसे झारखंडवासियों किसी तरह की दिक्कत न हो, इसके लिए वहां के मुख्यमंत्रियों से बात कर उनके रहने-खाने का इंतजाम करने का अनुरोध किया है। सीएम हेमंत सोरेन ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बिलासपुर में झारखंड के लोगों के फंसे होने की सूचना दी। इसके बाद भूपेश बघेल ने तत्काल एक्शन लिया। बताया कि सभी लोगों को भोजन उपलब्ध कराया गया है। अधिकारी सबको वापस भेजने की व्यवस्था में लगे हैं। मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि महाराष्ट्र से लौटते समय झारखंड के 50 से अधिक मजदूर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में फंसे हुए हैं। आने-जाने की कोई सुविधा नहीं है। खाना तक इन्हें नसीब नहीं हुआ है। मामले की जानकारी के बाद मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि बिलासपुर में फंसे झारखण्ड के मजदूरों की मदद करने की कृपा करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमण की रोकथाम को लेकर घबराएं नहीं, बल्कि सजग रहें। राज्य में या राज्य के बाहर रह रहे झारखंडवासियों की मदद हेतु राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम 181 बनाया गया है। कोरोना से जुड़ी जानकारी या समस्या बताने के लिए 181 पर फोन कर अपनी बात रख सकते हैं।