हरियाणा की बसें होंगी हाईटैक, बनेंगे स्मार्ट कार्ड और होगी ई-टिकटिंग मशीन

हरियाणा रोडवेज की बसों में रोजाना सफर करने वाले लाखों पैसेंजर्स को जल्द आधुनिक सुविधाएं मिलने वाली हैं। परिवहन विभाग ने सभी बसों को हाईटैक करने का फैसला लिया है। ट्रांसपोर्ट सिस्टम को और बेहतर बनाने के लिए अब परिवहन विभाग बसों के लिए नई टैक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने जा रहा है। इसके तहत 3488 बसों में जल्द ई-टिकटिंग, रेडियो फ्रिक्वैंसी आईडैंटिफिकेशन (आर.एफ.आई.डी.) पर आधारित बस पास और जी.पी.एस. सिस्टम जैसी सुविधाएं शुरू होने वाली हैं। इसके लिए विभाग ने 48 करोड़ के प्रोजैक्ट के लिए कंपनियों से प्रोपोजल मांगे हैं। कंपनियां परिवहन विभाग के पास 8 अप्रैल तक प्रोपोजल सबमिट करवा सकती हैं। अभी तक अधिकारियों से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार जिस भी कंपनी को यह प्रोजैक्ट सौंपा जाएगा उसकी समयावधि 5 वर्ष की होगी। इसके बाद कंपनी को सारे अधिकार विभाग को सौंपने होंगे। अधिकारियों के अनुसार प्रोजैक्ट का मकसद हरियाणा रोडवेज की बसों में सफर करने वाले लाखों यात्रियों को ऐसी सुविधाएं प्रदान करना है जो चुङ्क्षनदा ट्रांसपोर्ट विभाग के पास ही मौजूद है।