गोरखपुर:कोरोना से बचने के लिए अस्पताल में उमड़ रही भीड़

गोरखपुर। कोरोना वायरस से बचाव के लिए जिला अस्पताल परिसर में स्थित राजकीय होम्योपैथी अस्पताल में भीड़ उमड़ रही है। यहां आर्सेनिक एल्बम-30 दवा निशुल्क बांटी जा रही हैं। इसे लेने के लिए 400 से अधिक लोग रोजाना अस्पताल पहुंच रहे हैं। विशेषज्ञ इसे सुबह खाली पेट दो-दो गोली तीन दिनों तक खाने की सलाह दे रहे हैं। डॉक्टर बताते हैं कि यह दवा शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है। ऐसे में कोरोना वायरस से लड़ने में कारगर होगी। आयुष मंत्रालय की ओर से इसे बांटने के निर्देश भी जारी किए गए हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित लोग भले ही गोरखपुर और आसपास के जिलों में न मिले हों, लेकिन एहतियात के तौर पर सुरक्षा के हर कदम उठाएं जा रहे है। यही कारण है कि आयुष मंत्रालय ने वायरस से बचाव के लिए आर्सेनिक एल्बम-30 बांटने के निर्देश दिए हैं। जिला होम्योपैथी अधिकारी डॉ. मीना पुष्कर दोहरे ने बताया कि यह दवा जुकाम, सर्दी, छींक, नाक से पानी आना, सिरदर्द होना और बुखार-खांसी समेत फ्लू के सभी लक्षणों पर काम करती है। इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारी से बचाव के लिए भी दवा की खुराक ली जा सकती है। कोरोना वायरस का खौफ लोगों में ऐसा है कि हल्का सर्दी-जुकाम होने पर भी लोग इलाज के लिए सीधे जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं। यही कारण है कि जहां प्रतिदिन ढाई हजार की ओपीडी जिला अस्पताल में होती थी, अब इसकी संख्या बढ़कर 3000 से अधिक हो गई है। आज अस्पताल में सबसे अधिक संख्या सर्दी-जुकाम के मरीजों (करीब पांच सौ) की रही। डॉक्टरों ने सलाह दी कि बिना वजह घबराएं नहीं। मौसम परिवर्तन के कारण सर्दी-जुकाम की समस्या बढ़ी है। कोरोना का डर बिल्कुल नहीं है। अपने आसपास सफाई रखें।