बिहार: कोरोना का भय; समस्तीपुर जिले में धारा 144 रद्द

कोरोना वायरस को लेकर समस्तीपुर जिले में लगी धारा 144 के बाद लोगों में भय को देखते हुए उसे रद्द करने का फैसला किया गया है। जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने इसका आदेश दिया। डीएम ने जिले के लोगों से जागरूक रहने के साथ-साथ भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचने की अपील की है। उन्होंने लोगों से अपने आसपास की जगहों पर स्वच्छता अभियान चलाने को कहा है। डीएम लगातार कोरोना को लेकर बैठक कर रहे हैं और हालात की समीक्षा कर रहे हैं। अबतक समस्तीपुर में 30 से अधिक लोगों का सदर अस्पताल में कोरोना की जांच की जा चुकी है। विदेश से लौटे लोगों पर स्वास्थ्य विभाग के साथ अलग-अलग थाना क्षेत्र की पुलिस भी नजर बनाए हुए है। समस्तीपुर में भी कोरोना वायरस का डर लोगों को सताने लगा है। नगर परिषद ने कोरोना से निपटने और लोगों के डर भगाने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। समस्तीपुर शहर के 29 वार्डों में नगर परिषद की टीम ने दवा का छिड़काव किया है। डीएम के निर्देश पर नगर परिषद के सफाईकर्मी सुबह से ही शहर के अलग-अलग वार्ड में जा कर कीटनाशक दवा का छिड़काव कर रहे हैं। इस छिड़काव अभियान की निगरानी नगर परिषद के उपसभापति खुद कर रहे हैं। कोरोना वायरस को लेकर समस्तीपुर जिला प्रशासन के साथ नगर परिषद भी काफी गंभीर है। केमिकल स्प्रे के छिड़काव के बाद नगर परिषद ने फॉगिंग और शहर में ब्लिचिंग पाउडर के छिड़काव का भी निर्णय लिया है। नगर परिषद के उपसभापति शरीक रहमान लवली ने सड़क किनारे दवा का छिड़काव कराने के बाद आम लोगों से शहर में अपने आसपास साफ-सफाई रखने की अपील की है।