राज्यसभा चुनाव के बाद नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी में जुटेगी भाजपा
भोपाल। प्रदेश में नगरीय निकायों के कार्यकाल पूरे हो चुके हैं। राज्य शासन ने प्रशासकों की नियुक्ति कर दी है, राज्य निर्वाचन आयोग सरकार की मंशा के अनुसार चुनाव कराने की तैयारी कर रहा है। विधानसभा चुनाव में कड़ी टक्कर के बाद भी सत्ता से दूर हुई भाजपा नगरीय निकायों में अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए जुटी है। भाजपा राज्यसभा चुनाव की कवायद पूरी होने के बाद नगरीय निका
प्रदेश के अधिकांश नगर निगमों को कार्यकाल खत्म होने के कारण भंग कर दिया गया है। इन पर भाजपा का कब्जा था। कांग्रेस सरकार बनने के बाद इस साल नगरीय निकाय चुनाव में कड़ी टक्कर होने की संभावना है। ऐसे हालात में भाजपा की तैयारी है कि वह हर नगर निगम में पार्षद से महापौर तक के टिकट के लिए चेहरे चिन्हित करने और सर्वे कराने आदि का काम राज्यसभा चुनाव के बाद प्रारंभ कर देगी। पार्टी अब नए चेहरों को आगे बढ़ाने पर विचार कर रही है।

य चुनाव की तैयारी में जुट जाएगी।