लखनऊ:दिल्ली में हिंसा एआईएमआईएम नेता वारिस पठान के बयान का नतीजा है -वसीम रिजवी

लखनऊ। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने दिल्ली हिंसा पर कहा कि ये हिंसा एआईएमआईएम के नेता वारिस पठान के बयान का नतीजा है। उन्होंने कहा कि ये हिंसा शाहीन बाग में बैठी दादी और नानियों की जिहालत का नतीजा है। साथ ही उन्होंने कहा, सभी से हाथ जोड़कर अपील है कि कांग्रेसी जहर का प्याला लोग न पिएं। कांग्रेस के जाल में फंसकर हुकूमत के खिलाफ माहौल मत बनाओ। हुकूमत, देश और सीएए कानून हमारा है। आपस में लड़कर मरने वाले को कोई शहीद नहीं कहता। बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो गई है। जबकि घायलों की संख्या 250 से पार है। गुरु तेग बहादुर अस्पताल के अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। वहीं दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हालात चिंताजनक हैं, इसलिए सेना को बुलाया जाए।