दूसरे टेस्ट के लिए रहाणे का मंत्र : मजबूत इरादे दिखाएं

अंजिक्य रहाणे चाहते हैं कि उनके बल्लेबाज न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में तेज गेंदबाजों का मजबूत इरादों के साथ सामना करें और उस कोण से उठती गेंदों को समझे जो वेलिंगटन में पहले टेस्ट मैच में उनके लिए दु:स्वप्न बन गई थी। रहाणे ने पहले टेस्ट की पहली पारी में सर्वाधिक 46 रन बनाए थे और उन्होंने उम्मीद जताई कि हेगले ओवल की पिच पर घास होने के बावजूद उनकी टीम वापसी करेगी। रहाणे ने पत्रकारों से कहा, ‘मैं यह नहीं कह रहा हूं कि हमें अधिक आक्रामक होना चाहिए लेकिन मजबूत इरादे और स्पष्ट मानसिकता से हमें मदद मिलेगी।' न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों ट्रेंट बोल्ट, टिम साउदी और काइल जेमीसन ने क्रीज के कोण का इस्तेमाल करते हुए शार्ट पिच गेंदें की थी जिससे भारतीय बल्लेबाज नहीं समझ पाए थे। रहाणे ने कहा, ‘मुझे लगता है कि वेलिंगटन में उन्होंने उस कोण का बहुत अच्छा इस्तेमाल किया। क्रीज के बाहरी कोण से यह बीच से गेंदबाजी करना। शार्ट पिच गेंद करते समय वे कोण बदल रहे थे। मेरा मानना है कि उनकी रणनीति स्पष्ट थी।'