दिल्ली में हुई हिंसा पर भड़के रजनीकांत ने बड़ा आरोप लगाया और निपटने का रास्ता भी दिखाया

नई दिल्ली : दक्षिण के सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) ने दिल्ली में हुई हिंसा के लिए केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. दिल्ली में हुई हिंसा में हेड कांस्टेबल समेत 27 लोगों की मौत हो गई है. ANI के मुताबिक- रजनीकांत ने कहा कि दंगों से सख्ती से निपटा जाना चाहिए था. यह निश्चिततौर पर केंद्र सरकार के खुफिया तंत्र और गृहमंत्रालय की विफलता है. प्रदर्शन शांतिपूर्वक हो सकता था, इसे हिंसक नहीं होना चाहिए था. अगर हिंसा और भड़कती है तो इससे सख्ती से निपटा जाना चाहिए.


बता दें कि दिल्ली में हिंसा को शांत करने की जिम्मेदारी अजीत डोभाल उठा रहे हैं. उन्होंने कहा-  "जो कुछ हो गया वह हो गया. पूरा यकीन है कि अब यहां पर शांति होगी. हम प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के हुक्म की तामील करने यहां आए हैं. इंशाल्लाह यहां बिल्कुल अमन होगा. पुलिस अलर्ट है. इंतजामिया की जिम्मेदारी है कि हर एक को महफूज रखे और सलामती की जिम्मेदारी ले." कुछ इन्हीं लफ्जों के साथ उत्तर-पूर्वी दिल्ली में स्थानीय बाशिंदों को सुरक्षा का दिलासा देते नजर आए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल. इससे पहले डोभाल इस अंदाज में जम्मू-कश्मीर में नजर आए थे, जब 370 हटने के बाद हालात नाजुक था और वह खुद सड़कों पर उतरकर लोगों को समझा-बुझा रहे थे.