अबू आसिम आजमी ने अपने बेटे फरहान आजमी के बयान से खुद को किया अलग

जी.एन.एस) ता. 31
मुंबई
महाविकास आघाडी सरकार में सहयोगी समाजवादी पार्टी ने नेता अबू आसिम आजमी ने अपने बेटे फरहान आजमी के बयान से खुद को अलग कर लिया है। फरहान के बयान की निंदा करते हुए विधायक आजमी ने कहा कि उनका सपा से कोई लेना देना नहीं है। वह बिजनेस करता हैं। बाबरी मस्जिद बनाने वाला बयान गलत है। मैं उनके इस तरह के बयान को बिल्कुल पसंद नहीं करता हूं। उसके इसी तरह के बयानबाजी पर मैंने ही उसे पार्टी से निकाल दिया था।
अब उसका पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। उसे तो यह भी पता नहीं है कि बाबरी मस्जिद का मामला मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड देख रहा है। यदि बोर्ड कोई फैसला लेता है तो हम और देश के सभी मुसलमान उसके साथ खड़े होंगे। आजमी ने कहा कि वह ठाकरे सरकार गिराने चला है। अरे फडणवीस सरकार नहीं गिरा सके तो यह वह क्या गिरा देगा?
ठाकरे सरकार को समाजवादी का पूरा समर्थन है और यह सरकार दस साल से ज्यादा चलेगी। फरहान ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या दौरे पर टिप्पमी की थी कि हम लोग अयोध्या साथ जाएंगे, लेकिन एक शर्त होगी कि उद्धव अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करेंगे तो हम बाबरी मस्जिद बनाएंगे